Image लादूराम बैनीवाल

लादूराम बैनीवाल

भौतिक और आध्यात्मिक जीवन में समरसता

पता

लादूराम बैनीवाल गांव- भादरा जाटन जिला- हनुमानगढ़

कल्कि गुरुकृपा से हुआ जीवन में दिव्य परिवर्तन। परम पूज्य सदगुरुदेव श्री रामलाल जी सियाग व बाबा श्री गंगाईनाथ जी योगी ब्रह्मलीन के पावन चरणों में कोटि-कोटि प्रणाम। 2 जुलाई 2009 को मैंने समर्थ सदगुरुदेव श्री रामलाल जी सियाग से जोधपुर आश्रम में दीक्षा ली।

  • मुझे भौतिक जीवन से आध्यात्मिक जीवन में रूपांतरित होने की क्रियाविधि से अवगत कराया। वास्तविकता तो यह भी है कि मैं न जाने कितने जन्मों से इस मंजिल को पाने में ठोकरें खाते कहीं भटकता रहा हूँगा। लेकिन सत्य का धाम अब मुझे मिला। वो कहीं अन्य दूर नहीं था, केवल व केवल मेरे परम पूजनीय समर्थ सदगुरुदेव के पावन चरणों में मिला।

  • गुरुदेव के असीम आशीर्वाद से मेरे जीवन में जो कुछ प्राप्त हुआ, उसका जो आनंद मैं आज वास्तविक जीवन में अनुभव कर रहा हूँ; शब्दों में बयान कर नहीं पाता। गुरुदेव की करुण कृपा रूपी गुरु प्रसाद से मुझे सिद्धयोग के रास्ते से सहज में ही ज्ञान रूपी अमृतधारा के रसपान की प्राप्ति हुई। उसका वृत्तांत लेखनीय नहीं हो सकता।

दिन भर अजपा लगा रहता है व नाद सुनाई देती है। जिससे हर समय मैं आनंदित रहता हूँ। गुरुदेव की कृपा से मेरे जीवन में आश्चर्य कारक दिव्य परिवर्तन हुआ है। समर्थ सदगुरुदेव श्री रामलाल जी सियाग के चरणों में बारम्बार नमन्।
  • सिद्धयोग में गुरुदेव श्री रामलाल जी सियाग के चरणों में ध्यान करने से साधक को विभिन्न प्रकार के भौतिक नशों- जैसे बीड़ी, सिगरेट, अफीम, हेरोइन, चरस, भांग या शराब से छुटकारा मिलकर वृत्तियों में सुधार हो जाता है।

  • गृहस्थ जीवन में व्यक्ति भोगों के साथ-साथ मोक्ष तक की प्राप्ति कर लेता है। इसमें ध्यान के दौरान स्वतः ही यौगिक क्रियाएँ होती हैं। जिनमें साधक परमानंद महसूस करता है। मुझे ध्यान के दौरान विभिन्न प्रकार की मुद्राएँ, बंध व आसन लगते हैं।

  • दिन भर अजपा लगा रहता है व नाद सुनाई देती है। जिससे हर समय मैं आनंदित रहता हूँ। गुरुदेव की कृपा से मेरे जीवन में आश्चर्य कारक दिव्य परिवर्तन हुआ है। समर्थ सदगुरुदेव श्री रामलाल जी सियाग के चरणों में बारम्बार नमन्।

Share

नवीनतम जानकारी

स्पिरिचुअल साइंस पत्रिका एवं लेटेस्ट विडियो सीधे अपने मेलबॉक्स में प्राप्त करें ।