Image विमला देवी

विमला देवी

वर्षों पुरानी एलर्जी से निजात

पता

विमला देवी (उम्र-46) गाँव -गादूवास जिला- अलवर (राज.)

सर्वप्रथम परम पूज्य सदगुरुदेव भगवान् के चरणों में कोटि-कोटि प्रणाम। मुझे एलर्जी व जोड़ों के दर्द ने बहुत परेशान कर रखा था। हमने बहुत डॉक्टरों की दवा ली। लेकिन संतुष्टि नहीं थी। दवा लेते थे तब थोड़ा आराम महसूस होता था; दवा बन्द करते ही वही बेहाल हो जाता था।

  • एलर्जी के कारण मेरे हाथों की अंगुलियों के नाखून तक खत्म हो गये थे और मैं घर का कोई काम नहीं कर पाती थी। किसी चीज को हाथ लगाते ही असहनीय पीड़ा होती थी लेकिन कोई उपाय भी तो नहीं था।

  • परिवार वाले बहुत परेशान हो चुके थे क्योंकि मेरे कपड़े तक घर वालों को ही साफ करने पड़ते थे। मैं कोई काम नहीं कर पाती थी और पैरो में जोड़ो के दर्द के कारण मैं ठीक से चल भी नहीं पाती थी। मेरी जिन्दगी हर तरह से दुःखदायी थी।

सौभाग्य से मैं एक दिन गाँव के ही रामानन्द यादव के घर किसी कार्य से गई तो उन्होंने मुझे गुरुदेव के ध्यान व जाप के बारे में बताया और मुझे गुरुदेव का फोटो भी दिया। मैंने उसी दिन से गुरुदेव का ध्यान करना शुरू किया।
  • धीरे-धीरे मेरा ध्यान लगना शुरू हुआ। मुझे आराम महसूस होने लगा अब मैं गुरुदेव के ध्यान व मन्त्र जप से बिलकुल स्वस्थ हूँ। मेरे हाथ पहले की तरह स्वस्थ हो गये और पैरों की जकड़न भी पूर्णतः ठीक हो गई।

  • मैं आप सभी को भी गुरुदेव की शरण में जाने की सलाह देती हूँ। ऐसे परम दयालु सदगुरुदेव भगवान का बार-बार वन्दन करती हूँ।

Share

नवीनतम जानकारी

स्पिरिचुअल साइंस पत्रिका एवं लेटेस्ट विडियो सीधे अपने मेलबॉक्स में प्राप्त करें ।