Image रघुनाथ सिंह

रघुनाथ सिंह

लिवर की तकलीफ से मुक्ति

पता

प्रधान अधिकारी, भारतीय तट रक्षक, अश्विनी अस्पताल, मुम्बई

गुरुदेव के चरणों में कोटि-कोटि प्रणाम। मेरे लिवर में सूजन और हाथ में दर्द रहता था। मैं अश्विनी अस्पताल में भर्ती हुआ। पहले मैं मेडिकल वार्ड में भर्ती था।

  • वहाँ एक सर ने आकर सिद्धयोग का कार्ड व पेंफ्लेट दिया लेकिन मैंने क्लास एटेण्ड नहीं की। गुरुदेव की ऐसी कृपा हुई कि मैं दूसरे वार्ड में भर्ती हो गया। वहाँ सोमवार को सिद्धयोग की क्लास लगती है। वहाँ मैंने सिद्धयोग की क्लास एटेण्ड की।

  • उस दिन सिद्धयोग दर्शन क्या है, और गुरुदेव की तस्वीर से ध्यान करने पर क्या फायदे होते हैं ये जानकारी देकर, 15 मिनट का ध्यान कराया गया। उस दिन काफी शांति मिली और मन हल्का हो गया। दूसरे दिन से ही पूरे शरीर में स्वतः योग होने लगा। 4-5 दिन तो बहुत योग हुआ और हाथ-पाँव में दर्द होने लगा, जैसे बहुत ज्यादा शारीरिक कार्य किया हो।

अब मुझे पेट में अपने आप यौगिक क्रिया हो रही है। जिस दिन मोतिया बिन्द के लिए बोलता हूँ तो आँख और सिर की यौगिक क्रियाएँ होती हैं। लेटे-लेटे मंत्र जाप करने पर पूरे शरीर में यौगिक क्रियाएँ शुरू हो जाती हैं।
  • गुरुदेव की कृपा से बहुत आनन्द आ रहा और बहुत हल्का महसूस हो रहा है। अब मैं स्वस्थ हूँ। और सभी से निवेदन करता हूँ कि गुरुदेव सियाग के चरणों में समर्पण करके अपना जीवन धन्य करें।

Share

नवीनतम जानकारी

स्पिरिचुअल साइंस पत्रिका एवं लेटेस्ट विडियो सीधे अपने मेलबॉक्स में प्राप्त करें ।